Akhil Bhartiya Yog Shikshak Mahasangh


कार्यों का ब्यौरा

  • महासघ में लोगो को छोड़ सारे दस्तावेज डिज़ाइन और उसको सिक्योरिटी के ऊपर काम किया गया।
  • भारत मे प्रत्येक राज्य में महासंघ के सन्देश भेजा गया और उनकी समस्याओं को सुनते उनको जोड़ने की चेष्ठा की गई।
  • महासंघ के सोशल प्लेटफार्म को वेरीफाई करवा कर उसको ग्रे बैज के लिए अप्लाई किया गया।
  • 500 लोगों की ईमेल होस्टिंग को उपलब्ध करवाने हेतु बिना किसी से वितीय सहायता लिए कार्य किया गया। जिसमें 400 लोगो की ऑफिसियल ईमेल बनाई गई।
  • डोमेन वं होस्टिंग खरीद कर उस पर सिक्योरिटी ली गई। तथा सबसे पहले ssl और कोड सिक्योर पर कार्य करके वेबसाइट को बनाया गया और ऐसी इंटरफ़ेस उपलब्ध करवाई गई जिससे कोई फ़ोटो अथवा किसी प्रकार के कंटेंट की चोरी न कोई कर पाए।
  • वेबसाइट की कंटेंट राइटिंग की गई और उसको SEO करवाया गया और मोबाइल वेबसाइट भी बनाई गई।
  • सभी सदस्यों को एक पहचान देने के लिए क्लब पर कार्य किया गया और क्लब के माध्यम से उनकी प्रोफाइल गूगल जैसे 4 सर्च इंजन पर उपलब्ध करवाया गया।
  • योग कांति पत्रिका को बनाया गया और उसका एक प्रेस के सहयोगी के रूप में पंजीकृत करवाया गया। उद्देश्य इसके पीछे रहा कि महासंघ के कार्यों के साथ महासंघ के सदस्यों के ज्ञान और प्रतिभा को जन जन तक पहुंचाया जाए। जिसमे 5k तक व्यूअर रहे। कुछ एक पदाधिकारी की गलतियों के कारण जब रैंकिंग नीचे गिरी तो इस सेवा को रिडिजाइन भी किया गया और 2 सप्ताह में पुणः 6+ रैंक पर ले कर जाया गया।
  • उसके उपरांत कुछ कम्पनीज द्वारा योग से जुड़े लोगों का शोषण रोकने के लिए एक निशुल्क क्लासिफाइड सेवा उपलब्ध करवाई गई जिसके माध्यम से उनके व्यवसाय को एक आइडेंटिटी दी जाए और लोग उनसे संपर्क कर पाएं। यही नही उसमे भी कई सेवाएं उपलब्ध करवाई गई जिसमें योग डायरेक्टरी एप्लीकेशन पर कार्य हुआ।
  • इसके उपरांत योग प्रतिभागियों की समस्याओं का पता चला तो उनकी सारी समस्याओं को सुनने और उन पर कार्य करने हेतु we care सपोर्ट सिस्टम चलाया गया। जिससे जनसामान्य से ले कर प्रत्येक योग से जुड़े व्यक्ति की समस्याओं को एकत्रित करके उनका समाधान पर कार्य हो ऐसा पोर्टल बनाया गया।
  • महासंघ के पॉडकास्ट चलाया गया और उसको लिंक किया गया 8 चैनल्स पर जिसमे spotify एक रहा। और 700+ सब्सक्राइबर तक हम पहुंचे।
  • 3d सिक्योरिटी वाला लैटर पैड बनाया गया जिसमें वास्तविक पनतंजली जी की तस्वीर लगाई गई।
  • पूरे भारत मे ईमेल कैम्पिंनग चलाई गई और 304 सांसदों को पत्र केवल एक व्यक्ति द्वारा भेजा गया।
  • टेलवग्राम असिस्टेंट के माध्यम से लोगो को जोड़ा गया तथा उनका डाटा इकठा किया गया। और जोइनिग हेड को भेजा गया।
  • लाइव अस्सिटेंट जोड़ा गया तथा उसके माध्यम से 3000 से ऊपर लोगो को जोड़ा तथा उनका डाटा जोइनिंग कमेटी को उपलब्ध करवाया गया। जो उस समय मुकेश जी के पास थी।
  • टेलवग्राम असिस्टेंट के माध्यम से लोगो को जोड़ा गया तथा उनका डाटा इकठा किया गया। और जोइनिग हेड को भेजा गया।
  • 3 कविताएं तथा 2 गीत लिख कर महासंघ के कार्यों को जन जन तक पहुँचाया गया।
  • महासंघ की स्टाम्प डिज़ाइन की गई।
  • महासंघ के ऑटो लिंक सिस्टम बनाया गया जिससे इंटरलिंकिंग करके कई सेवाएं चलाई गई।
  • सेवाओं को कैसे इस्तेमाल किया जाए इसका हाऊ टू पोर्टल वीडियो बनाई गईं।
  • महासंघ की सेफ ड्राइव सिस्टम बना कर महासंघ की महत्वपूर्ण फाइल्स को ऑनलाइन सेफ में उपलब्ध करवाया गया।
  • गूगल जैसे कई कंपनियों तथा पोर्टल्स पर लिस्टिंग करवाई गई और उनको 5 मेसे 4 की रेटिंग करवाई गई।
  • महासंघ के बैनर, वीडियो और फ्लायर्स बनाए गए।
  • महासंघ की वेबसाइट से पूर्व ही जोइनिग फॉर्म के।माध्यम से लोगो को जोड़ा गया था जिसमे कुल 532 लोगो का डाटा जोइनिग टीम को भेज गया xcl फ़ाइल के माध्यम से।
  • मेंबर ऑथेंटिकेशन सिस्टम चलाया गया जिसके माध्यम से सरकारी पोर्टल के साथ लिंक करके उनकी प्रोफाइल वेरीफाई करवाई गई।
  • सरकार के परियोजना के अंतर्गत फिट इंडिया का कार्यक्रम चलाया गया जिसमें कुछ 41 सदस्यों कर सर्टिफिकेट उपलब्ध करवाए गए और एक महासंघ के सर्टिफिकेट अलग से।
  • इसी के साथ महासंघ के सरकारी अधिकरियों द्वारा कुछ करार करके उनके सर्टिफिकेट लिए गए जो वेबसाइट पर उपलब्ध हैं। याँ कह लीजिए अब तक उपलब्ध हैं। यह सर्टिफिकेट एक बहन के सहयोग से प्राप्त हुए उनको सदैव धन्यवाद।

उपरोक्त जानकारी 28 जनवरी 2021 तक के कार्यों पर आधारित है।

Website Designed for Akhil Bhartiya Yog Shikshak Mahasangh

An example of web designing service designed and content writing by me. Due to some security region i blurred the video you can check website @ https://www.abyogsms.org.in. This website was designed and maintained by me till Dec 22 2020 only.

Posted by Viney Pushkarna on Monday, 11 January 2021

Do you like this Post?

0 Comments